मोटापा कम करने के रामबाण उपाय क्या है।

मोटापा (Obesity) या अधिक वजन की समस्या अब मुख्य रूप से भारतीय में ही नहीं अपितु यह अब विश्व में भी एक आम समस्या बनती जा रही है, Scientific Language में इसे हम इस प्रकार Define कर सकते है, जब Accumulated Fat को शरीर में Store किया जाता है, तब उसे ही आमतौर पर Obese अर्थार्त मोटापा माना जाता है। 

यह आमतौर पर तब सामने आता है जब हम अत्यधिक भोजन, Irregular Lifestyle, मानसिक स्वास्थ्य का ध्यान ना देना जैसी समस्याओं का उपभोग करने लगते है और नियमित रूप से Physical Activities में शामिल नहीं होना है। मोटे लोगों मे अक्सर कई बीमारियां जैसे Diabetes, नींद न आना (Insomnia), ब्रोन्कियल अस्थमा (Bronchitis) , उच्च रक्तचाप (High Blood Pressure) और पुराने ऑस्टियोआर्थराइटिस (Osteoarthritis) जैसे कई रोगों को आकर्षित करने की अधिक सम्भावनाये बढ़ जाती है।

 मोटापा कम करने के रामबाण उपाय क्या है।  


आम तौर पर आम धारणा है कि मोटापा आमतौर पर अत्यधिक भोजन के सेवन और नियमित शारीरिक व्यायाम की कमी के कारण होता है, लेकिन उनके कई प्रकार के अलग-अलग कारण भी मोटापे का विकास करने मे साहयक होते हैं। कुछ Scientific Studies से यह भी पता चला है कि मोटापा भी एक आनुवांशिक समस्या हो सकता है। 

अब मोटापा भी पूरी दुनिया मे एक महामारी की तरह फैलता जा रहा है, अगर समय पर रहते हुऐ इसका सही प्रकार से कोई इलाज नहीं किया गया तो यह विभिन्न प्रकार की स्वास्थ्य समस्याओं की संभावना को बढ़ा सकता है, इसलिये इन पर जल्द से जल्द अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है। 


Obesity को लेकर World Population के आधार पर कुछ Important Points

  • 18 वर्ष से अधिक आयु के 1.9 बिलियन से अधिक वयस्क अधिक वजन वाले है। इनमें से 650 मिलियन वयस्क पूर्ण रूप से मोटे है।
  • Total Population के 39% वयस्क जो 18 वर्ष से अधिक आयु के है अधिक वजन वाले है और 13% वयस्क पूर्ण मोटे है।
  • दुनिया मे मोटापे से मृत्यु का अनुपात उन लोगों मे अधिक है, जो अधिक वजन और कम वजन के मुकाबले मे अधिक मोटे है।
  • 5 से लेकर 19 वर्ष तक की आयु के लगभग 340 मिलियन बच्चे और किशोर अधिक वजन वाले या मोटे है।
  • अब तक की Study के अनुसार 1975 से लेकर अब तक मोटे या अधिक वजन वाले लोगों की संख्या तीन गुणा हो चुकी है।
  • भारत की कुल आबादी के 5% से अधिक लोग मोटापे से प्रभावित हैं।
मोटापा कम करने के रामबाण उपाय क्या है।

Obesity (मोटापे) के कई कारण होते है 


1. Over eating की आदत
मोटापे के विकास का एक मुख्य कारण भोजन का आवश्यक मात्रा से अधिक और अनियमित प्रकार से भोजन का सेवन है, जिसमे शराब का सेवन, उच्च कैलोरी भोजन, नियमित रूप से आवश्यकता से अधिक Junk Food खाने से भी यह समस्या होती है।

2. शारीरिक गतिविधि का अभाव
इसका एक अन्य महत्वपूर्ण कारण है, हमारे दैनिक जीवन में आया बदलाव, देर-देर रात तक काम करना, सुबह देर तक सोना जिससे मनुष्य धीरे-धीरे स्वस्थ जीवन से दूर हो जाता है, जो शारीरिक गतिविधियों में अनिच्छा को जन्म देने लगता है।


3. कुछ मनोवैज्ञानिक मुद्दे
अक्सर यह देखा गया है कि जब लोग कुछ कठिन समय से गुज़रते हैं और काफी अधिक मानसिक तनाव को झेलते हैं, तो वे अधिक खाना खाने लगते हैं, जिससे मोटापे की समस्या बढ़ने की संभावना अधिक होती है।

4. आनुवंशिक समस्याए 
कुछ वैज्ञानिक अध्ययन यह बताते हैं कि मोटापा भी एक आनुवांशिक समस्या हो सकता है। यदि माता-पिता में से किसी एक को यह समस्या है, तो यह काफी हद तक संभव है कि उनके बच्चे को भी इस तरह की समस्या से निपटना पड़ सकता है।

5. हार्मोन की गड़बड़ी
कभी-कभी लंबे समय तक कोई दवा लेना भी आपको आंतरिक रूप से परेशान कर सकता है और आपके हार्मोनल असंतुलन का कारण बनता है जिसके परिणामस्वरूप आप मोटापा के शिकार हो सकते है।

6. दवा
दवा भी मोटापे का कारण होती है, Birth Control की गोली, अन्य Anti Depression गोलियां और अन्य बीमारी की दवा जो आप लंबे समय से ले रहे हैं, वह भी आपका वजन बढ़ाने का कारण बन सकती हैं, जिससे एक निश्चित समय अवधि के बाद आप मोटापा से ग्रसित हो सकते है।

मोटापा कम करने के रामबाण उपाय क्या है।

मोटापे से होने वाले प्रभाव


मोटापे की अनदेखी करना कभी-कभी हमारे स्वास्थ्य के लिए एक गंभीर समस्याओं को आमंत्रित करती है, मोटापा व्यक्ति के शरीर पर कई तरह से नकारात्मक प्रभाव को डालता है। यह हमारे शरीर मे कई प्रकार की घातक बीमारियों का कारण बन सकता है:
  • उच्च कोलेस्ट्रॉल स्तर (High Cholesterol)
  • मधुमेह (Diabetes)
  • दमा (Asthma)
  • सोने मे परेशानी (Insomnia)
  • बांझपन (Infertility)
  • उच्च रक्तचाप (High Blood Pressure)
  • हृदय रोग (Heart Disease)
  • पित्ताशय की पथरी (Stone in Gallbladder)
  • शरीर के विभिन्न भाग में दर्द होना (Pain in body parts)
  • मनोसामाजिक प्रभाव (Physiological Issue)
  • मोटापा कई प्रकार के कैंसर के विकास के लिए भी कई प्रकार के जोखिम कारकों को भी आमंत्रित करता है
  • और ऐसी कई अन्य पुरानी बीमारियाँ जो मोटापे के कारण होती है 

मोटापा कम करने के रामबाण उपाय क्या है।


मोटापा को रोकने के कुछ उपाय


कुछ सरल और स्वस्थ जीवन शैली को गंभीरता से लेने से पहले इस समस्या को रोका जा सकता है। यहाँ उन विकल्पों पर एक नज़र है:

1. स्वस्थ भोजन एक अच्छा विकल्प
इस बात का ख्याल रखें कि आप एक दिन में कितना खाना खाते हैं और उसमे फाइबर युक्त पौष्टिक आहार को खाने की अधिक से अधिक कोशिश करे जिसमें हरी पत्तेदार सब्जियाँ, ताजे फल और कई प्रकार के अनाज आदि शामिल हो।

2. भोजन की मात्रा और उसका आकार
सिर्फ स्वस्थ भोजन का विकल्प चुनना ही काफी नहीं है, आपको यह भी देखना होगा कि आप एक दिन में कितनी बार खाना खाते हैं। दिन में तीन बार बड़ी मात्रा में भोजन करने के बजाय आप नियमित अंतराल पर पांच से छह बार थोड़ी मात्रा में भोजन लेना शुरू करे यह स्वास्थ्य के लिए अधिक फायदेमंद होगा।

3. नियमित रूप से वर्कआउट करें
प्रति दिन 1.30 से 2 घंटे के लिये व्यायाम करने की आदत को विकसित करें। जिसमे जॉगिंग, तैराकी, साइकिल चलाना, नृत्य, योग और प्राणायाम आदि शामिल हो।


4. शराब और धूम्रपान से छुटकारा पाने का प्रयास करे 
इस तरह की जो भी आदते है आप उनसे दूर रहने की कोशिश करें, क्योंकि इन चीजों के सेवन से शरीर में आलस्य पैदा होने लगता है जो आपकी एक अस्वस्थ दिनचर्या का कारण बनता है।

5. अपने वजन का ध्यान रखें
यह भी सुनिश्चित करने के लिए कि सभी चीजें आपके नियंत्रण में हैं, इसलिये समय-समय पर अपने शरीर के वजन के साथ-साथ अपनी कमर के आकार को भी मापें।

मोटापा कम करने के रामबाण उपाय क्या है।

मोटापे के लिए वजन को संतुलित करने के कुछ आयुर्वेदिक नुस्खे


हमारे आस-पास ऐसी बहुत सी चीजें हैं जो आसानी से वजन को कम करने में हमारी मदद कर सकती हैं। लेकिन जानकारी के अभाव में हम उनका उपयोग नहीं करते। अब मैं आपको घर में मौजूद ऐसी ही कुछ चीजों के बारे में बताऊंगा जो आपका वजन घटाने में काफी मददगार हो सकती हैं।

1. शहद और नींबू
गर्म पानी के साथ प्रतिदिन सुबह-सुबह नींबू और शहद पीने से वजन को कम करने में काफी मदद मिलती है। अगर एक गिलास गर्म पानी में शहद, नींबू का रस और काली मिर्च पाउडर को अच्छी तरह से मिलाएं और इस मिश्रण को रोज सुबह खाली पेट लें तो यह निश्चित रूप से ही आपके वजन को कम करने में मदद करेगा।

2. हरी चाय (Green Tea)
ग्रीन टी एक बहुत अच्छा एंटीऑक्सीडेंट है जो Fat को कम करता है। अगर आप इसे रोज लेते हैं तो निश्चित रूप से यह आपके वजन को कम करने मे काफी उपयोगी हो सकता है। यूनिवर्सिटी ऑफ मैरीलैंड मेडिकल सेंटर के शोधकर्ताओं ने अपने शोध में माना कि ग्रीन टी में विशेष प्रकार के पॉलीफेनोल्स होते हैं जो शरीर में वसा को जलाने में मदद करते हैं।


3. लौकी 
लौकी में पानी और फाइबर पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। आप इसे सब्जी या जूस किसी भी तरह ले सकते हैं। 100 ग्राम लौकी के रस में केवल 12 ग्राम कैलोरी होती हैं। अपने सुबह के नाश्ते में इसे शामिल करने से वजन कम होगा और साथ ही आपकी त्वचा मे चमक आयेगी।

4. सेब का सिरका
सेब के सिरके की मदद से आसानी से वजन को कम किया जा सकता है। इसे पानी में मिलाकर रोजाना सुबह लें। सिरका Blood मे Sugar के Level को नियंत्रण करता है यह इंसुलिन को Free Sugar को Fat के रूप में Store नहीं होने देता, जिससे वजन को कम करने मे साहयता मिलती है।

5. अजमोद (Parsley)
अजमोद गुर्दे की सफाई के लिए जाना जाता है। यह किडनी में मौजूद कचरे को बाहर निकालकर आपको स्वस्थ रखता है। पेट की समस्याओं से भी यह छुटकारा दिलाता है और भूख को लंबे समय तक महसूस नहीं होने देता है, जिससे वजन नहीं बढ़ता है।

6. करौंदा (Gooseberry)
प्रकृति में करौंदा विटामिन सी का एक बहुत अच्छा स्रोत होने के साथ-साथ एक अच्छा एंटीऑक्सीडेंट भी है। रोजाना करौंदे का जूस पीने से वजन घटाने में काफी बहुत मदद मिलती है। यह शरीर के Metabolism को ठीक रखता है और Fat को कम करने में मदद करता है।

मोटापा कम करने के रामबाण उपाय क्या है।

7. सौफ
यह शीघ्र वजन घटाने के लिए एक प्रभावी Herbal नुस्खा है। भारी भोजन लेने से पंद्रह मिनट पहले एक कप सौंफ की चाय पिएं। इससे आपकी भूख नियंत्रित होगी। इसके अलावा यह पेट से संबंधित बीमारियों के लिए भी काफी फायदेमंद है।


8.  बेर के पत्ते
बेर के पत्तों को रात भर पानी में भिगो दें और सुबह इस पानी से काले हो चुके भीगे हुए पत्तों को निकालकर पी लें। इस नुस्खे को एक महीने तक अवश्य करें, यह निश्चित रूप से आपके बढ़ते हुऐ वजन को कम कर सकता है।


9. खूब मात्रा मे पानी पिए
रोजाना न्यूनतम आठ से नौ गिलास पानी पीने से भी तेजी से वजन को कम करने में बहुत मदद मिलती है। कई शोधों मे यह माना गया है कि यदि आप एक दिन में आठ से नौ गिलास पानी पीने से प्रतिदिन 200 से 250 कैलोरी को जला सकते हैं।

10. दही
दही खाने से भी वजन को कम किया जा सकता है। इंटरनेशनल जर्नल ऑफ़ ओबेसिटी के अनुसार, जो लोग अधिक दही खाते हैं उनका वजन कम हो जाता है। दही में कैल्शियम और प्रोटीन Fat को कम करने में मददगार होते है।

11. टमाटर
टमाटर बीटा कैरोटीन और आइकोपिन से परिपूर्ण होता हैं। अगर आप वजन कम करने के बारे में सोच रहे हैं, तो टमाटर आपके लिए काफी फायदेमंद रहेगा। क्योकि इसमें फाइबर अधिक और कम कैलोरी होती है, जो वजन कम करने में बहुत मदद करता है। इसमें मौजूद बीटा कैरोटीन भी शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है।
मोटापा कम करने के रामबाण उपाय क्या है।

12. खीरा
मोटापा कम करने के लिए, जब भी आपको भूख लगे, खीरा खाएं क्योंकि इसमें 96 प्रतिशत पानी और फाइबर होता है जो बिना कैलोरी के होता है, इसे खाने से आपका वजन नहीं बढ़ेगा। यदि आप खीरे से बने हुऐ सलाद को खाते हैं, तो आप 3 दिनों में लगभग 2 किलो तक वजन को कम कर लेंगे।

13. गाजर
शरीर पर जमा चर्बी को कम करने के लिए गाजर का सेवन फायदेमंद है। सुबह-सुबह गाजर का रस पीना सेहत के लिए अच्छा माना जाता है। अगर आप चाहें तो गाजर का इस्तेमाल सलाद या सब्जियों में भी कर सकते हैं। इससे निश्चित रूप से शरीर पर जमा चर्बी कम होगी।


14. आड़ू (Peach)
अगर आप डाइटिंग पर हैं तो आप रोज आड़ू का सेवन कर सकते हैं। आड़ू में कैलोरी की मात्रा बहुत कम होती है, इसलिए यदि आप इसका अधिक सेवन करते हैं, तो यह आपका वजन नहीं बढ़ने देगा। एक आड़ू में कुल 68 ग्राम कैलोरी होती है।

15. पपीता
अगर आप जल्दी वजन कम करना चाहते हैं, तो नियमित रूप से सुबह खाली पेट पपीते का सेवन करें। उसके बाद आप अपने वजन की जांच करें, निश्चित रूप से इसमें कमी आएगी। इसमें पेप्सिन नामक एक तत्व होता है, जो भोजन को पचाने में मदद करता है। पपीते का प्रतिदिन सेवन करने से पाचन शक्ति बढ़ती है।

16. रागी
रागी में आयरन, कैल्शियम, फॉस्फोरस, विटामिन बी 1 और बी 2 पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। यह आपकी भूख को नियंत्रित करता है। इससे बनी चीजों के सेवन से लंबे समय तक भूख का एहसास नहीं होता है। स्वास्थ्य भी बना रहता है। रागी में बहुत अधिक फाइबर होता है और यह खराब कोलेस्ट्रॉल से लड़ने में भी सहायक है।

मोटापा कम करने के रामबाण उपाय क्या है।

अंत मे निष्कर्ष


मोटापा एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या है जिसे कभी नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए। स्वास्थ्य के बारे में हमारा लापरवाह व्यवहार आसानी से हमे इस समस्या की ओर ले जाता है, अगर इसकी सही निगरानी न की जाए तो इसे गंभीर रूप धारण करने मे देर नहीं लगती। इसलिये स्वस्थ जीवनशैली को अपनाकर मोटापे को ठीक किया जा सकता है। इस समस्या को विकसित होने से रोकने के लिए एक स्वस्थ आहार योजना और व्यायाम अनुशासन का पालन करना अति आवश्यक है।





Post a Comment

Plz do not enter any spam link in the comment box.

और नया पुराने